Home खबर एक्सप्रेस मध्य प्रदेश के हर एक गांव में लड़कियां सूआटा खेलती हैं।

मध्य प्रदेश के हर एक गांव में लड़कियां सूआटा खेलती हैं।

76

मध्य प्रदेश के हर एक गांव में लड़कियां सूआटा खेलती हैं।
और बड़ी ही धूमधाम से सुआटा का विवाह करती हैं।
आज सूआटा का अंतिम दिन मै बहन अपने भाइयों को रीति-रिवाजों के चलते भोजन खिलाते हैं
आप जान लिए प्राणों अनुसार सुआटा एक दानव राक्षस था जो छोटी-छोटी लड़कियों को अपने मुंह का निवाला बना लेता था
उसी कारण कुंवारी लड़कियां सुआटा नाम के दानव राक्षस को पूजन लगी।
सुआटा उनकी पूजा देख उनकी रक्षा करने लगा।
यह परंपरा कई सालों से चली आ रही है जिसमें केवल कुंवारी लड़कियां सुआटा खिलाती हैं।
यह परंपरा के अनुसार शादी शुदा लड़कियां सुआटा नहीं खेल सकती
इसे मध्य प्रदेश के हर एक जिले से हर शहर और गांव में खेला जाता है।
यह परंपरा जन्मों से चली आ रही है।
सुआटा लगभग 15 दिनों तक खिलता है
इसमें लड़कियां खेल भी दिखाती हैं।
पूरी परंपरा के साथ सुआटा का विवाह किया जाता है।
बाद में बहन अपने भाइयों को भोजन खिलाती हैं।