Home न्यूज़ देर रात बड़ा आरोप: भाजपा ने बसपा के दो, एक निर्दलीय और...

देर रात बड़ा आरोप: भाजपा ने बसपा के दो, एक निर्दलीय और 6 कांग्रेसी विधायकों को दिल्ली में बंधक बनाया

188

शिवराज सिंह चौहान दिल्ली चले ग
भोपाल. पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा भाजपा पर लगाए गए हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों पर मंगलवार सुबह से लेकर देर रात 1 बजे तक बड़ा सियासी घमासान छिड़ा रहा। दरअसल, सुबह दिग्विजय ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि भाजपा नेता भूपेंद्र सिंह बसपा विधायक रामबाई को अपने साथ चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली आए हैं। हालांकि रामबाई के पति गोविंद ने दिग्विजय के आरोपों का खंडन किया और कहा- रामबाई अपनी बेटी से मिलने दिल्ली गई हैं। लेकिन, शाम को अचानक भाजपा उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंती शिवराज सिंह चौहान दिल्ली चले गए।

दिग्विजय भी दिल्ली में हैं। इससे सियासी पारा और चढ़ गया। देर रात खबर आई कि भाजपा ने दो निर्दलीय विधायक, बसपा विधायक रामबाई और करीब 6 कांग्रेसी विधायकों को गुड़गांव के आईटीसी मराठा होटल में एकत्रित किया है। इसके बाद भोपाल से दो कांग्रेसी मंत्री जीतू पटवारी और जयवर्धन को दिल्ली भेजा गया। पटवारी ने भास्कर को बताया कि जब तक हम होटल पहुंचते, तब तक सभी विधायक होटल से किसी अज्ञात स्थान पर ले जाए जा चुके थे। सिर्फ रामबाई होटल के बाहर मिलीं। अपुष्ट सूत्रों ने बताया कि विधायकों को दिल्ली के मौर्या सैरेटन होटल में रखा गया है।

इन विधायकों के 5 स्टार होटल में होने की पुष्टि

रामबाई (बसपा) पथरिया
बिसाहूलाल (कांग्रेस) अनूपपुर
हरदीप सिंह (कांग्रेस) सुवासरा
सुरेंद्र सिंह शेरा (निर्दलीय)
संजीव कुशवाह (बसपा) भिंड
एंेदल सिंह कंसाना (कांग्रेस) सुमावली
हमारे विधायकों को भाजपा ने बंधक बनाया, हमें भरोसा है कि सुबह सभी घर लौट आएंगे: दिग्विजय
दिग्विजय दिल्ली में ही हैं। उन्हें जब विधायकों को होटल में एकत्रित करने की खबर मिली, तो वह भी होटल आईटीसी मराठा पहुंचे। लेकिन यहां उन्हें कोई नहीं मिला। दिग्विजय ने भास्कर से बातचीत में बताया कि विधायक बिसाहू लाल साहू, रामबाई, कांग्रेसी हरदीप सिंह डंग, निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह को भाजपा ने बंधक बना लिया है। ये सभी होटल में हैं और मुझे होटल में नहीं जाने दिया जा रहा। हालांकि मेरी सभी विधायकों से बात हो गई है, वो सुबह सभी साथ आ जाएंगे। सीएम कमलनाथ भी देर रात तक दिल्ली में मौजूद विधायकों से संपर्क साधने की कोशिश करते रहे।