Home महाराष्ट्र नागपुर:-सीएम की सिटी में जलजमाव की स्थिति पर विपक्ष का सरकार पर...

नागपुर:-सीएम की सिटी में जलजमाव की स्थिति पर विपक्ष का सरकार पर हमला

161

विधिमंडल का कामकाज़ ठप्प होने को बताया काला दिन
नागपुर : भारी बारिश ने राज्य की उपराजधानी में शुरू मानसून सत्र को ठप्प कर दिया। अत्याधिक वर्षा की आपातकालीन स्थिति को संभाल पाने में नागपुर फिर एक बार असफल साबित हुआ। सरकार के साथ इन दिनों नागपुर में समूचा विपक्ष उपस्थित है। नागपुर के हाल पर विपक्ष ने भी तंज कसकर सरकार पर जमकर हमला किया है। शहर के रखरखाव की ज़िम्मेदारी नागपुर महानगर पालिका की है जहाँ लगातार बीते 15 वर्षों में बीजेपी सत्ता में है। मुख्यमंत्री ख़ुद इसी शहर से आते है ऐसे में उनके शहर में पहली बारिश से हुए हाल स्थानीय प्रसाशन की तैयारियों की पोल खोल के रख दी है। बैठे बिठाये विपक्ष को सरकार पर हमला बोलने का एक मौका मिल गया है।
विधानपरिषद में नेता प्रतिपक्ष धनंजय मुंडे ने ट्वीट कर सरकार पर हमला बोला। मुंडे ने कहाँ सरकार मानसून सत्र नागपुर में लेने पर अड़ी रही लेकिन इसको लेकर किसी तरह का नियोजन नहीं किया गया। ये सरकार की लापरवाही को उजागर करता है। इतिहास में कभी ऐसा नहीं हुआ जब विधान भवन का कामकाज़ बिजली जाने की वजह से ठप्प हुआ हो।
राष्ट्रवादी के वरिष्ठ नेता भास्कर जाधव के मुताबिक ये दिन विधान भवन के लिए काला दिन है। मै बीते 25 वर्षों से विधान भवन में कार्यरत हूँ ऐसा अनुभव कभी नहीं आया। अधिक वर्षा होने की वजह से बिजली बंद कर दी जाती है। ये मानसून सत्र है ऐसी स्थिति आनी ही थी आवश्यकता तैयारियों को लेकर होनी चाहिए थी।

नागपुर से दुर्गाप्रसाद बर्वे की रिपोर्ट