Home महाराष्ट्र नागपुर:-धरमपेठ मे हाईप्राेफाइल सेक्स रैकेट पकड़ाया,बालाघाट के हैं आरोपी

नागपुर:-धरमपेठ मे हाईप्राेफाइल सेक्स रैकेट पकड़ाया,बालाघाट के हैं आरोपी

230

नागपुर: एक हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट का पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए एक कपल सहित अन्य एक युवक को गिरफ्तार किया है जबकि इनके चंगुल से एक युवती को मुक्त कराया गया। सामाजिक सुरक्षा विभाग के दस्ते ने शहर धरमपेठ खरे टाउन स्थित फ्लैट में छापा मारा। बर्डी थाने में प्रकरण दर्ज कर दंपति सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया। उनके कब्जे से मुक्त कराई गई युवती अकोला की बताई गई है। कार्रवाई से और भी कई बड़े चेहरे भी बेनकाब होने की संभावना है।

बालाघाट के हैं आरोपी

जानकारी के अनुसार आरोपी अड्डा संचालक सौरभ राजेंद्र जैन (24), उसकी पत्नी श्वेता सौरभ जैन (22) और उनका साथी केविन जॉन चक्कु (29) है। सौरभ और श्वेता मूलत: बालाघाट जिला अंतर्गत वारासिवनी के हैं तथा केविन केरल निवासी है। गत छह-सात महीने पहले तीनों ने धरमपेठ स्थित सदाशिव अपार्टमेंट के दूसरे माले पर फ्लैट किराए से लिया और वहीं से देह व्यापार घिनौना काम संचालित करने लगे। ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए सौरभ और केविन ने फर्जी नाम राहुल और अर्जुन के नाम से सोशल साइट पर अपने मोबाइल नंबर दे रखे थे। इससे बड़ी संख्या में ग्राहक उनके पास आने लगे थे। ग्राहकों की मांग पर नई-नई लड़कियों को फांसने का काम श्वेता, उसका पति और केविन करते थे। श्वेता जहां अच्छी कमाई की नौकरी का झांसा देती थी, वहीं सौरभ और केविन उन्हें प्रेम जाल में फांसते थे। उसके बाद उन्हें घिनौने काम में लगा दिया जाता था।

गुप्त सूचना पर की कार्रवाई

स्थानीय सामाजिक सुरक्षा विभाग के दस्ते को गुप्त जानकारी मिली थी कि आरोपी सोशल साइट के जरिए देह व्यापार करते हैं। तय योजना के तहत नकली ग्राहक को फ्लैट में भेजा गया था। नकली ग्राहक का संकेत मिलते ही पुलिस ने कार्रवाई को अंजाम दिया। फ्लैट में 21 वर्षीय पीड़ित युवती भी मिली है, जो अकोला की है। इस युवती के अनुसार उसे कैटरिंग के काम का झांसा देकर यहां पर बुलाया गया था। बाद में उससे देह व्यापार कराया जाने लगा। इस बीच बर्डी थाने में प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। सामाजिक कार्यकर्ता नूतन रेवतकर, शकुन सनेश्वर की मौजूदगी में उपायुक्त श्वेता खेडकर के मार्गदशन में निरीक्षक मीना जगताप, संजीवनी थोरात, अजय जाधव, विजय गायकवाड, दामोधर राजूरकर आदि ने कार्रवाई की है।

नागपुर से दुर्गाप्रसाद बर्वे की रिपोट्